विश्व बैंक की वैश्विक आर्थिक परिदृष्य रिपोर्ट का विश्लेषण

विश्व बैंक की वैश्विक आर्थिक परिदृष्य रिपोर्ट (Global Economic Prospects Report, 2020) के विश्लेषण अध्याय को जारी कर विभिन्नदेशों से कहा है कि वे दीर्घावधि की वृद्धि को प्रोत्साहन देने के लिए वृहद नीतियां अपनाएं। साथ ही देशों को कोरोना वायरस संकट के बीच स्वास्थ्य से संबंधित आपात स्थिति से निपटने के लिए लघु अवधि के उपाय भी करने की जरूरत है। विश्व बैंक की यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जबकि इस तरह के संकेत हैं कि 2020 में छह करोड़ लोग अत्यंत गरीबी में चले जाएंगे।
विश्व बैंक (World Bank) के अध्यक्ष डेविड मालपास ने कहा कि जिस तेजी से कोविड-19 महामारी और उसकी वजह से अर्थव्यवस्था को बंद किए जाने से दुनियाभर के गरीबों की बुरी हालत हुई है, वह आधुनिक समय के लिए बेहद असाधारण स्थिति है। ।’
गरीब देशों के लिए बड़ा संकट

  • रिपोर्ट में कहा गया है कि कोरोना वायरस महामारी और अर्थव्यवस्था की बंदी से वैश्विक अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है, खासकर गरीब देशों को।
  • इस स्वास्थ्य संकट का बुरा दौर बीतने के बाद अब विकासशील देशों और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को समुदाय को अर्थव्यवस्था में सुधार की रफ्तार को तेज करने के लिए कदम उठाना चाहिए।
  • विश्व बैंक (World Bank) के अध्यक्ष ने कहा कि आज हमें जो नीतिगत विकल्प चुनना है उसमें निवेश को आकर्षित करने के लिए ऋण में अधिक पारदर्शिता, डिजिटल संपर्क में तेजी से आगे बढ़ना ओर गरीबों के लिए नकदी के सुरक्षा जाल का विस्तार करना शामिल है। इससे हम नुकसान को कम कर सकेंगे और अर्थव्यवस्था को मजबूती से उबार सकेंगे।

विश्व बैंक समूह

  • विश्व बैंक संयुक्त राष्ट्र से जुड़ी एक महत्वपूर्ण संस्था है और यह कई संस्थाओं का समूह है। इसीलिये इसे विश्व बैंक समूह (World Bank Group) भी कहा जाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक (International Bank for Reconstruction and Development-IBRD) और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund-IMF) की स्थापना एक साथ वर्ष 1944 में अमेरिका के न्यू हैम्पशायर में ब्रेटन वुड्स सम्मेलन (Bretton Woods Conference) के दौरान हुई थी।
  • ब्रेटन वुड्स सम्मेलन को आधिकारिक तौर पर संयुक्त राष्ट्र मौद्रिक और वित्तीय सम्मेलन (United Nations Monetary and Financial Conference) के रूप में जाना जाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक को ही विश्व बैंक कहा जाता है।
  • इसका मुख्यालय अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन DC (पूर्व में District of Colombia) में है।
    वर्तमान में विश्व बैंक में 189 देश सदस्य हैं। विश्व बैंक का सदस्य बनने के लिये किसी भी देश को पहले अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम का सदस्य बनना ज़रूरी होता है।
  • इसके वर्तमान अध्यक्ष डेविड मलपास हैं।

विश्व बैंक में शामिल 5 संस्थाएँ

  • अंतर्राष्ट्रीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक (International Bank for Reconstruction and Development – IBRD), इसे ही विश्व बैंक कहा जाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय विकास संघ (International Development Association – IDA)
  • अंतर्राष्ट्रीय वित्त निगम (International Finance Corporation – IMF)
  • बहुपक्षीय निवेश प्रत्याभूति एजेंसी (Multilateral Investment Guarantee Agency – MIGA)
  • निवेश संबंधी विवादों के निपटान का अंतर्राष्ट्रीय केंद्र (International Centre for Settlement of Investment Disputes – ICSID)

प्रकाशित रिपोर्ट

  • विश्व विकास रिपोर्ट (World Development Report)
  • इज ऑफ डूइंग बिजनेस रिपोर्ट/इंडेक्स (Ease of Doing Business)
  • ग्लोबल इकोनामिक प्रासपैक्टस (Global Economic Prospects)

Related Posts

Leave a Reply