चर्चा में क्यों?

  • असम के मुख्यमंत्री, सर्बानंद सोनोवाल ने असम के धेमाजी जिले में एक महत्वपूर्ण जैव विविधता हॉटस्पॉट, पोबा रिजर्व फॉरेस्ट को अपग्रेड करने की घोषणा की है।

महत्वपूर्ण तथ्य

  • 1924 में पोबा रिजर्व फॉरेस्ट के रूप में घोषित, इस वन का क्षेत्रफल 10,522 हेक्टेयर है और यह बड़ी संख्या में वनस्पतियों और जीवों का प्राकृतिक आवास है।
  • हाल ही में देहरादून स्थित वाइल्डलाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (WII) की एक टीम ने पोबा रिजर्व फॉरेस्ट में एक सांप (Snake) की एक प्रजाति को फिर से खोजा था, जिसे 129 साल से विलुप्त माना जा रहा था।

इस ‘हेबियस पियाली’ (Hebius pealii) प्रजाति के सांप को असम कीलबैक (Assam Keelback) कहा जाता है, इसको पहली बार 1891 में देखा गया था, जब एक ब्रिटिश चाय बागान मालिक सैमुअल एडवर्ड पील ने असम (Assam) के सिबसागर जिले (Sibsagar district) से दो नर नमूनों को पकड़ा था।

Related Posts

Leave a Reply