भारत और डेनमार्क में बिजली क्षेत्र में सहयोग के लिये सहमति पत्र (MOU) पर हस्ताक्षर

भारत और डेनमार्क ने बिजली क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिये सहमति पत्र (MOU) पर हस्ताक्षर किये हैं। भारत सरकार के उर्जा मंत्रालय इस शुरुआती समझौते के बाद एक संयुक्त कार्यकारी समूह का गठन करेगा जो एमओयू पर आगे काम करेगा। सहमति पत्र पर भारत की तरफ से बिजली सचिव संजीव नंदन सहाय और डेनमार्क की तरफ से भारत में डेनमार्क के राजदूत फ्रेडी स्वाने ने हस्ताक्षर किये। इस समझौते का उद्देश्य दोनों देशों के बीच परस्पर लाभ के आधार पर विद्युत उर्जा के क्षेत्र में एक मजबूत और दीर्घकालीन सहयोग विकसित करना है।समझौते में अपतटीय पवन ऊर्जा (Offshore wind energy), दीर्घकालीन ऊर्जा नियोजन (Long term energy planning), ग्रिड में लचीलापन(Flexibility in the grid), बिजली खरीद समझौते में लचीलापन आदि जैसे क्षेत्रों सहयोग की बात कही गयी है।

Related Posts

Leave a Reply