हूती विद्रोहियों के मिसाइल हमले को सऊदी अरब ने नाकाम किया

सऊदी अरब की हवाई रक्षा प्रणाली ने रियाद और यमन सीमा पर स्थित एक शहर पर हूती विद्रोहियों के मिसाइल हमले को विफल कर दिया।यमन में विद्रोहियों से लड़ रहे सऊदी अरब के नेतृत्व वाले गठबंधन ने कहा कि दो बैलिस्टिक मिसाइलों से रियाद और जीजान शहरों पर हमला किया गया था, जिन्हें बीच में ही नष्ट कर दिया गया। रियाद में आवासीय परिसरों पर टुकड़े गिरने से दो नागरिक घायल हो गए। उल्लेखनीय है कि हूती विद्रोहियों ने पिछले सितंबर में सऊदी तेल प्रतिष्ठानों पर दोहरे हमले के बाद राज्य में हिंसा रोकने की पेशकश की थी। ईरान गठबंधन के विद्रोहियों ने हमले के लगभग 15 घंटे बाद जिम्मेदारी लेने का दावा किया। यमन में रियाद के नेतृत्व वाला सैन्य हस्तक्षेप अपने छठे वर्ष में प्रवेश कर गया है।
कौन हैं हूती विद्रोही?
यमन में साल 2015 से संघर्ष जारी है । तब हूती विद्रोहियों ने राजधानी सना पर कब्ज़ा कर लिया था और राष्ट्रपति अब्दरबू मंसूर हादी को देश छोड़कर भागना पड़ा था। हूती विद्रोहियों का उत्तरी यमन के ज़्यादातर हिस्से पर कब्ज़ा है। सऊदी अरब राष्ट्रपति हादी के समर्थन में है। सऊदी अरब के अगुवाई वाले गठबंधन ने साल 2015 में हूती विद्रोहियों के ख़िलाफ हवाई हमले शुरू किए थे। ये गठबंधन आज भी जारी हैं। हूती विद्रोही भी सऊदी अरब पर मिसाइल हमले करते रहे हैं।

Related Posts

Leave a Reply