दुर्घटना

लेबनान की राजधानी बेरुत में भीषण विस्फोट

चर्चा में क्यों?

  • 4 अगस्त 2020 को लेबनान की राजधानी बेरूत स्शित एक पोर्ट में दो भीषण विस्फोट हुए।
  • 70 से भी अधिक लोगों की इस धमाके में मौत हो चुकी है, जबकि 3700 से भी अधिक लोग घायल हैं।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दिएब ने कहा है कि यह विस्फोट 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट (Ammonium Nitrate) से हुआ था।

अमोनियम नाइट्रेट क्या है?

  • अमोनियम नाइट्रेट एक गंधहीन रासायनिक पदार्थ है जिसका कई कामों में उपयोग होता है।
  • सामान्यतः इसका सबसे अधिक प्रयोग दो कामों में होता है – खेती के लिए उर्वरक के तौर पर और निर्माण या खनन कार्यों में विस्फोटक के तौर पर होता है।
  • यह अत्यंत विस्फोटक रसायन है। इसमें आग लगने पर तेज धमाका होता है और उसके बाद ख़तरनाक गैस निकलने लगती हैं जिनमें नाइट्रोजन ऑक्साइड और अमोनिया गैस शामिल हैं।

अमोनियम नाइट्रेट के कारण हुई दुर्घटनाएं

  • 2013 में अमेरिका के टेक्सस राज्य में एक फ़र्टिलाइज़र प्लांट में धमाका हुआ था जिसमें 15 लोगों की मौत हुई थी।
  • 2001 में फ़्रांस के टुलूज़ में भी एक केमिकल प्लांट में धमाका हुआ था जिसमें 31 लोग मारे गए थे।
  • 1995 में अमरीका के ओकलाहोमा में हुए धमाके में इस्तेमाल हुए बम में भी अमोनियम नाइट्रेट पाया गया था।

………………………………………………………………………………………………………………………

निधन

इब्राहिम अल्का जी

  • भारतीय रंगमंच के जानीमानी हस्ती और अभिनय के विख्यात शिक्षक इब्राहिम अल्काजी का 4 अगस्त 2020 को निधन हो गया। वह 94 वर्ष के थे।
  • अल्काजी नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (NSD) के लंबे समय तक निदेशक रहे थे।
  • उन्होंने गिरीश कर्नाड के ‘तुगलक’, धर्मवीर भारती के ‘अंधायुग’ जैसे लोकप्रिय नाटकों का मंचन किया। उन्होंने कलाकारों की कई पीढ़ियों को अभिनय की बारीकियां सिखाई।

……………………………………………………………………………………………………………………………………………….

राज्य परिदृश्य

हिमाचल प्रदेश: भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) की आधारशिला

चर्चा में क्यों?

  • केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री,रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने 4 अगस्त 2020 को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के साथ, हिमाचल प्रदेश के सिरमौर में भारतीय प्रबंधन संस्थान (IIM) की ऑनलाइन आधारशिला रखी।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • केंद्र सरकार द्वारा 2014 में आईआईएम सिरमौर सहित सात नए आईआईएम को स्थापित करने का निर्णय लिया था, जिससे तत्कालीन आईआईएम द्वारा तैयार किए जा रहे कॉर्पोरेट लीडरों की मांग और आपूर्ति के बीच के अंतर को कम किया जा सके।
  • 15 अगस्त 2014 को यह घोषणा की गई थी कि एक आईआईएम की स्थापना हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के धौलाकुआं में की जाएगी।
  • 12 मार्च 2015 को, राज्य सरकार द्वारा संस्थान के लिए स्थायी परिसर विकसित करने के लिए धौलाकुआं में 210 एकड़ जमीन आवंटित की गई।
  • भारतीय प्रबंधन संस्थान, सिरमौर भारत सरकार द्वारा स्थापित प्रतिष्ठित आईआईएम परिवार का सबसे नवीनतम आईआईएम में से एक है।
  • आईआईएम सिरमौर ने अपने पहले बैच की शुरूआत सितंबर 2015 में, 20 छात्रों को शामिल करते हुए हिमाचल प्रदेश के सिरमौर के पांवटा साहिब में अपने अस्थायी परिसर से की थी।

………………………………………………………………………………………………………………..

चर्चित पुस्तक

स्वच्छ भारत क्रांति

चर्चा में क्यों?

  • पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय के सचिव परमेश्वरन अय्यर द्वारा संपादित पुस्तक “The Swachh Bharat Revolution” का हिन्दी में अनुवाद किया गया है और उसे ‘स्वच्छ भारत क्रांति‘ के रूप में प्रकाशित किया गया है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • स्वच्छ भारत क्रांति पुस्तक स्वच्छ भारत मिशन के विभिन्न हितधारकों एवं योगदानदाताओं द्वारा 35 निबंधों के जरिये इसकी उल्लेखनीय यात्रा को दर्शाती है जिन्होंने इस सामाजिक आंदोलन पर अपना परिप्रेक्ष्य साझा किया।
  • निबंधों को चार प्रमुख वर्गों में व्यवस्थित किया गया है जो मिशन की सफलता के चार प्रमुख स्तंभ हैं:

राजनीतिक नेतृत्व (Political Leadership),
सार्वजनिक वित्तपोषण (Public Financing),
साझेदारियां (Partnerships) एवं
जनभागीदारी (People’s Participation)।

  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रस्तावना के साथ इस पुस्तक में अरुण जेटली, अमिताभ कांत, रतन टाटा, सदगुरु जग्गी वासुदेव, अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, तवलीन सिंह, बिल गेट्स एवं अन्य लोगों द्वारा लिखे गए निबंधों का एक संकलन है।

………………………………………………………………………………………………………………..

योजना-परियोजना

थेनजोल गोल्‍फ रिसोर्ट परियोजना

चर्चा में क्यों?

  • केन्द्रीय संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रहलाद सिंह पटेल ने 4 अगस्त 2020 को भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की ‘स्वदेश दर्शन योजना’ के तहत कार्यान्वित मिजोरम के “थेनजोल गोल्‍फ रिसोर्ट (Thenzawl Golf Resort)” का वर्चुअल तरीके से उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • स्वदेश दर्शन योजना के तहत इस परियोजना को पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए “न्यू इको टूरिज्म इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट” के तहत 92.25 करोड़ रुपये की स्वीकृत राशि के साथ मंजूरी दी है।
  • थेनजोल में गोल्फ कोर्स को कनाडा की सबसे बड़ी गोल्फ कोर्स आर्किटेक्चर कंपनी ग्राहम कुक एंड एसोसिएट्स द्वारा डिज़ाइन किया गया है। यह कुल 105 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है। जिसमें 75 एकड़ खेल क्षेत्र है।
  • भारत में गोल्फ पर्यटन की काफी संभावनाएं हैं क्योंकि अधिकांश देशों की तुलना में यहां जलवायु की स्थिति अधिक अनुकूल है।
  • आज भारत में 230 से अधिक गोल्फ कोर्स हैं। पर्यटन मंत्रालय देश में गोल्फ कोर्स पर्यटन के विकास और उसे बढ़ावा देने के लिए सक्रिय रूप से प्रयास कर रहा है।

स्वदेश दर्शन योजना

  • जनवरी, 2015 में पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा ‘स्वदेश दर्शन’ योजना शुरू की गई थी।
  • यह योजना 100% केंद्रीय रूप से वित्त पोषित है।
  • योजना के अंतर्गत 13 विषयगत सर्किट के विकास हेतु पहचान की गई है, ये सर्किट हैं :- पूर्वोत्तर भारत सर्किट, बौद्ध सर्किट, हिमालय सर्किट, तटीय सर्किट, कृष्णा सर्किट, डेजर्ट सर्किट, आदिवासी सर्किट, पारिस्थितिकी सर्किट, वन्यजीव सर्किट, ग्रामीण सर्किट, आध्यात्मिक सर्किट, रामायण सर्किट और विरासत सर्किट।

………………………………………………………………………………………………………………..

अंतराष्ट्रीय परिदृश्य

ब्रिटिश सिक्कों पर छपेगी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तस्वीर

चर्चा में क्यों?

  • आजन्म अंग्रजों के दमन और उपनिवेशवाद के खिलाफ ‘सत्‍याग्रह’ रत रहे भारत के राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की तस्‍वीर अब ब्रि‍टिश मुद्रा पाउंड पर नजर आएगी।
  • महात्‍मा गांधी पहले ऐसे अश्‍वेत व्‍यक्ति होंगे जिनकी तस्‍वीर पाउंड पर छपने जा रही है।
  • जिस ब्रिटिश सरकार के सूरज का कभी अस्‍त नहीं होता था, उसके ताकत और वैभव का प्रतीक कहे जाने वाली मुद्रा पर बापू की तस्‍वीर छपना एक ऐतिहासिक घटना माना जा रहा है।
  • इंगलैंड में सिक्‍कों के डिजाइन और उनके व‍िषयवस्‍तु पर सलाह देने वाली द रॉयल मिंट एटवाइजरी कमिटी ने बापू के तस्‍वीर वाले सिक्‍के के डिजाइन पर काम करना शुरू कर दिया है।
  • इस ऐतिहासिक घटना के मुख्‍य सूत्रधार ब्रिटेन के वित्‍तमंत्री भारतीय मूल के ऋषि सुनक हैं। उ
  • उन्‍होंने अश्‍वेत और अल्‍पसंख्‍यक नस्‍लों के लोगों के आधुनिक ब्रिटेन के निर्माण में मदद देने वाले लोगों के काम को मान्‍यता देने के अभियान का समर्थन किया है।
  • वर्ष 1869 में जन्‍मे बापू ने ने आजीवन अहिंसा का समर्थन किया और इसी हथियार के बल पर भारतीय स्वतंत्रता के राष्ट्रीय आंदोलन का नेतृत्व किया। इसीलिए उनके जन्‍मदिन 2 अक्‍टूबर को अंतरराष्‍ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • बापू की 30 जनवरी, 1948 को हत्‍या कर दी गई थी।
  • महात्मा गांधी के अलावा ब्रितानी सिक्कों पर जिनकी तस्वीर लगाने की बात हो रही है उनमें भारतीय मूल की ब्रितानी जासूस नूर इनायत ख़ान और जमाइका मूल की ब्रितानी नर्स मेरी सिकोल हैं।

………………………………………………………………………………………………………………………

Related Posts

Leave a Reply