Daily Current Affairs 10 October 2020

चर्चित स्थान

खारडुंगला दर्रा, लेह

चर्चा में क्यों?

  • भारतीय वायुसेना ने खारडुंगला दर्रे, लेह में स्काईडाइव लैंडिंग की।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • भारतीय वायु सेना ने 08 अक्टूबर, 2020 को अपनी 88 वीं वर्षगांठ मनाई है। इस अवसर को मनाने के लिए, भारतीय वायु सेना द्वारा खारदुंगला दर्रा, लेह में अपने पहले रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 17,982 फीट की ऊंचाई पर अपने लिए एक उच्चतम स्काईडाइव लैंडिंग का एक नया रिकॉर्ड बनाया गया।
  • विंग कमांडर गजनाद यादव और वारंट ऑफिसर एके तिवारी ने सी-130जे विमान से सफल स्काईडाइविंग लैंडिंग किया और 08 अक्टूबर, 2020 को लेह के खारडुंगला दर्रे में सफलतापूर्वक लैंडिंग की।
  • निम्न वायु घनत्व, उबड़-खाबड़ एवं पहाड़ी वाले इलाकों में ऑक्सीजन के स्तर में कम उपलब्धता होती है जिसके कारण इतनी ऊंचाई पर सफलतापूर्वक उतरना बहुत ही चुनौतीपूर्ण होता है।
  • लेकिन वायु योद्धाओं ने प्रतिकूल परिस्थितियों पर काबू पाते हुए और अपनी उत्कृष्ट व्यावसायिकता, धैर्य और दृढ़ संकल्प का प्रदर्शन करते हुए अपना सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन किया और भारतीय वायुसेना ने अपना नया रिकॉर्ड स्थापित करने में भव्य सफलता प्राप्त की है।
  • यह अनूठी उपलब्धि एक बार फिर से भारतीय वायुसेना के सामने आने वाली चुनौतियों के बावजूद नई ऊंचाइयों को प्राप्त करने की उसकी उत्कृष्ट क्षमता का प्रदर्शन करती है और यह दर्शाती है कि अभियान, अखंडता और उत्कृष्टता के प्रति उनके आदर्श वाक्य के संदर्भ में उनकी प्रतिबद्ध लगातार बनी हुई है।

वायुसेना दिवस

  • भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने 8 अक्टूबर 2020 को 88 वां स्थापना दिवस मनाया।
  • भारतीय वायु सेना की स्थापना वर्ष 1932 में 8 अक्टूबर को स्थापना हुई थी।

………………………………………………………………………..

दिन/दिवस/सप्ताह

राष्ट्रीय डाक सप्ताह

चर्चा में क्यों?

  • भारतीय डाक विभाग ने राष्ट्रीय डाक सप्ताह की शुरुआत विश्व डाक दिवस के साथ की है, जिसे प्रति वर्ष 9 अक्टूबर को मनाया जाता है।
  • यह दिन 1874 में बर्न में यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (UPU) की स्थापना की वर्षगांठ है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • विश्व डाक दिवस का उद्देश्य लोगों और व्यवसायों के रोजमर्रा के जीवन में डाक क्षेत्र की भूमिका और देशों के सामाजिक व आर्थिक विकास में इसके योगदान के बारे में जागरूकता पैदा करना है।
  • इस दौरान डाक विभाग राष्ट्रीय स्तर पर जनता और मीडिया के बीच अपनी भूमिका और गतिविधियों के बारे में व्यापक जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय डाक सप्ताह के अंतर्गत कार्यक्रम व गतिविधियों का आयोजन करता है।
  • इस वर्ष के लिए विश्व डाक दिवस एवं राष्ट्रीय डाक सप्ताह समारोह के कार्यक्रम निम्नलिखित है:-
  • इस वर्ष के लिए विश्व डाक दिवस एवं राष्ट्रीय डाक सप्ताह समारोह के कार्यक्रम निम्नलिखित है:-
दिनांकदिवसविवरण
9 अक्टूबरशुक्रवारविश्व डाक दिवस
10 अक्टूबरशनिवारबैंकिंग दिवस
12 अक्टूबरसोमवारपीएलआई दिवस
13 अक्टूबरमंगलवारडाक टिकट संग्रह दिवस
14 अक्टूबरबुधवारव्यवसाय विकास दिवस
15 अक्टूबरबृहस्पतिवारडाक दिवस

………………………………………………………………………………………………………………………

रक्षा अनुसंधान एवं विकास

एंटी रेडिएशन मिसाइल :रुद्रम

चर्चा में क्यों?

  • नई पीढ़ी के एंटी रेडिएशन मिसाइल (रुद्रम) (Rudram Anti-Radiation Missile) का 9 अक्टूबर 2020 को ओडिशा के तट से दूर व्हीलर द्वीप पर रेडिएशन परीक्षण किया गया।
  • इसका परीक्षण सुखोई-30 एमकेआई फाइटर एयरक्राफ्ट से किया गया है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने भारतीय वायु सेना (IAF) के लिए देश की पहली स्वदेशी एंडी ​रेडिएशन ​मिसाइल रुद्रम विकसित की है।
  • इस मिसाइल को लॉन्च प्लेटफॉर्म के रूप में सुखोई एसयू-30 एमकेआई लड़ाकू विमान में एकीकृत किया गया है, इसमें लॉन्च स्थितियों के आधार पर अलग-अलग रेंज की क्षमता है।
  •  इसमें अंतिम हमले के लिए पैसिव होमिंग हेड के साथ आईएनएस-जीपीएस नेविगेशन है।
  • पैसिव होमिंग हेड एक विस्तृत बैंड पर लक्ष्य का पता लगाने, वर्गीकृत करने और लक्ष्य को उलझाने में सक्षम है।
  • मिसाइल बड़े स्टैंड ऑफ रेंज से प्रभावी तरीके से दुश्मन के वायु रक्षा को रोकने के लिए आईएएफ का एक शक्तिशाली हथियार है।
  • इसके साथ ही, देश ने दुश्मन रडार, संचार साइटों और अन्य आरएफ उत्सर्जक लक्ष्यों को बेअसर करने के लिए लंबी दूरी की हवा में लॉन्च की गई एंटी-रेडिएशन मिसाइल विकसित करने के लिए स्वदेशी क्षमता स्थापित कर ली है।

………………………………………………………………………………………………………

रिपोर्ट/इंडेक्स

‘पॉवर्टी एंड शेयर प्रॉस्पेरिटी’ रिपोर्ट: विश्व बैंक

चर्चा में क्यों?

  • कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी ने दुनियाभर में सामाजिक और आर्थिक रूप से बड़ा नुकसान पहुंचाया है। विश्व बैंक (World Bank) ने महामारी के कारण 150 मिलियन (15 करोड़) लोगों के साल 2021 तक अत्यंत गरीबी से जूझने की संभावना जताई है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • विश्वबैंक ने हाल ही में जारी अपनी द्विवार्षिक ‘पॉवर्टी एंड शेयर प्रॉस्पेरिटी’ रिपोर्ट में यह अनुमान जाहिर किया।
  • रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2021 तक 88 से 150 मिलियन लोगों को अत्यंत गरीबी का सामना करना पड़ सकता है।
  • रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य-आय वाले देशों (Middle Income Countries) में 82 फीसदी लोगों को घर चलाने में समस्या आ सकती है।
  • विश्व बैंक की द्विवार्षिक गरीबी एंव साझा समृद्धि रिपोर्ट के अनुसार, साल 2020 में गरीबी दर घटकर 7.9 प्रतिशत रहने की उम्मीद है।

प्रकाशित अन्य रिपोर्ट्स

  • विश्व विकास रिपोर्ट (World Development Report)
  • इज ऑफ डूइंग बिजनेस रिपोर्ट/इंडेक्स (Ease of Doing Business)
  • ग्लोबल इकोनामिक प्रासपैक्टस (Global Economic Prospects)

………………………………………………………………………..

राज्य परिदृश्य

जेवर एयरपोर्ट के निर्माण के लिए ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल से समझौता

चर्चा में क्यों?

  • उत्तर प्रदेश के नोएडा में बनने वाले देश के सबसे बड़े एयरपोर्ट के निर्माण के लिए 7 अक्तूबर 2020 को उत्तर प्रदेश सरकार ने ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल ए. जी. के प्रतिनिधि‍यों के साथ ‘कंसेशन एग्रीमेंट’ पर हस्ताक्षर किए हैं।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमि‍टेड (नियाल) के सीईओ डॉ. अरुण वीर सिंह और क्रिस्टोल्फ श्लेनमैन सीईओ, ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल ए. जी. ने कंसेशन एग्रीमेंट पर हस्ताक्षर किए।
  • इस कंसेशन एग्रीमेंट से ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल को 40 साल की अवधि के लिए नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट का डिजायन, निर्माण और संचालन करने का लाइसेंस मिल गया है।
  • नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पब्ल‍िक प्राइवेट पार्टनरशि‍प (पीपीपी) के आधार पर विकसित किया जाएगा।
  • यह वर्ष 2024 में बनकर तैयार होगा।

………………………………………………………………………..

योजना/परियोजना

‘स्वामित्व’ योजना

चर्चा में क्यों?

  • ग्रामीण भारत में बदलाव के लिए बड़े सुधार के रूप में भू-संपत्ति मालिकों को ‘स्वामित्व’ योजना के अंतर्गत संपत्ति कार्ड वितरित करने की योजना शुरू की गई है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • इस योजना के अंतर्गत लगभग एक लाख भू-संपत्ति मालिक अपने मोबाइल फोन पर एसएमएस के द्वारा प्राप्त होने वाले लिंक से संपत्ति कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे।
  • इसके बाद संबंधित राज्य सरकारें संपत्ति कार्ड का फिजिकल वितरण करेंगी।
  • इसके अंतर्गत 6 राज्यों के 763 गांवों के लोग लाभान्वित होंगे, जिसमें उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 221, महाराष्ट्र के 100, मध्य प्रदेश के 44, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के 2 गांव शामिल होंगे।
  • इस योजना से भू-संपत्ति मालिक अपने संपत्ति को वित्तीय संपत्ति के तौर पर इस्तेमाल कर सकेंगे।
  • इसका इस्तेमाल लोन आदि के आवेदन समेत अन्य आर्थिक लाभ के लिए किया जा सकेगा।

‘स्वामित्व’ के बारे में कुछ अन्य तथ्य

  • ‘स्वामित्व’ केंद्र सरकार के पंचायती राज मंत्रालय द्वारा शुरू की गई एक योजना है।
  • इसके बारे में प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस, 24 अप्रैल, 2020 को घोषणा की थी।
  • इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को ‘रिकॉर्ड ऑफ राइट्स’ देने के लिए संपत्ति कार्ड का वितरण किया जाना है।
  • इस योजना का क्रियान्वयन 4 वर्ष में चरणबद्ध ढंग से किया जाएगा।
  • इसे 2020 से 2024 के बीच पूरा किया जाना है और देश के 6.62 लाख गांवों को कवर किया जाना है। इसमें से एक लाख गावों को आरंभिक चरण (पायलट फेज) में 2000-21 के दौरान कवर किया जाएगा।
  • इस आरंभिक चरण में उत्तर प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड और कर्नाटक के गांवों के साथ-साथ से पंजाब तथा राजस्थान के सीमावर्ती कुछ गांव शामिल होंगे। पंजाब और राजस्थान में नियमित प्रचालन प्रणाली स्टेशन (सीओआरएस) नेटवर्क भी स्थापित किया जाएगा।
  • अलग-अलग राज्यों में संपत्ति कार्ड को अलग-अलग नाम दिए गए हैं। हरियाणा में ‘टाइटल डीड’, कर्नाटक में ‘रूरल प्रॉपर्टी ओनरशिप रिकॉर्ड’ (आरपीओआर), मध्यप्रदेश में ‘अधिकार अभिलेख’, महाराष्ट्र में ‘सनद’, उत्तराखंड में ‘स्वामित्व अभिलेख और उत्तर प्रदेश में ‘घरौनी’ नाम दिया गया है।

Related Posts