Category

राज्य

गुजरात में अनुसूचित जनजातियों की समीक्षा

चर्चा में क्यों? गुजरात के सासण गीर जंगल में बसे तथा अनुसूचित जनजाति ( Schedule Tribe (ST) वर्ग का लाभ उठा रही रबारी, भरवाड, चारण जाति के असली आदिवासी होने की अब समीक्षा की जाएगी। राज्‍यमंत्रिमंडल की बैठक में हाल ही में इन जातियों की समीक्षा के लिए न्‍यायिक आयोग का गठन की घोषणा की...
Read More

हिमाचल प्रदेश में शत-प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन

चर्चा में क्यों? हिमाचल प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां शत-प्रतिशत घरों में एलपीजी कनेक्शन है। महत्वपूर्ण बिंदु राज्य के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के लाभार्थियों से चर्चा करते हुए यह घोषणा की। इस योजना से प्रदेश के 1.36 लाख परिवार...
Read More

उत्तर प्रदेश: ‘मिशन वृक्षारोपण-2020’

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को उत्तर प्रदेश में ‘मिशन वृक्षारोपण-2020’ का शुभारम्भ किया। महत्वपूर्ण बिंदु इस मिशन के अन्तर्गत व्यापक जनसहभागिता एवं अन्तर्विभागीय समन्वय के माध्यम से राज्य भर में एक दिन के अंदर 25 करोड़ से अधिक औषधीय, फलदार, पर्यावरणीय, छायादार, चारा औद्योगिक व प्रकाष्ठ की दृष्टि से महत्वपूर्ण 201 से अधिक प्रजातियों...
Read More

ओडिशा: बलराम योजना

चर्चा में क्यों? ओडिशा सरकार ने भूमिहीन किसानों को कृषि ऋण देने के लिये एक योजना ‘बलराम’ की शुरुआत की है। इस योजना के तहत कोरोना वायरस महामारी के कारण कठिनाइयों का सामना कर रहे करीब सात लाख भूमिहीन किसानों को 1,040 करोड़ रुपये का ऋण दिया जाएगा। महत्वपूर्ण बिंदु भूमिहीन किसान पहले कृषि ऋण...
Read More

ओडिशा: स्थानीय मोटा अनाज आईसीडीएस और पीडीएस में शामिल

चर्चा में क्यों? ओडिशा सरकार ने स्थानीय मोटे अनाज रागी को ‘एकीकृत बाल विकास सेवा’ (Integrated Child Development Services- ICDS) योजना तथा ‘सार्वजनिक वितरण प्रणाली’ (Public Distribution System-PDS) में शामिल करने का निर्णय लिया है। महत्वपूर्ण बिंदु यह पहल उड़ीसा राज्य द्वारा वर्ष 2017 में शुरु की गई मिलेट मिशन (Millet Mission) का हिस्सा है।...
Read More

गंगोत्री नेशनल पार्क में सड़कों के निर्माण को स्वीकृति

चर्चा में क्यों? उत्तराखंडवन्यजीव बोर्ड की बैठक में गंगोत्री राष्ट्रीय पार्क के अधीन सामरिक महत्व की चार सड़कों के निर्माण को मंजूरी दे गई है। इन सड़कों को मिली मंजूरी सड़क                                     लंबाई सुमला से थांगला                      11.85 त्रिपाणई से रंगमचगा़ड               6.21 मंडी से सांगचोक्ला                    17.60 यह तीनों सड़कें ही चीन सीमा पर हैं और आइटीबीपी के...
Read More

भारत सरकार, तमिलनाडु सरकार और विश्व बैंक के बीच समझौता

चर्चा में क्यों? भारत सरकार, तमिलनाडु सरकार और विश्व बैंक ने तमिलनाडु के कम आय वाले समूहों की मदद के लिए हाल ही में कानूनी समझौतों पर हस्ताक्षर किए, ताकि उन्हें किफायती आवास प्राप्त हो सके। महत्वपूर्ण बिंदु इसके तहत दो परियोजनाओं के लिए कानूनी समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए जिनमें से एक है 200...
Read More

महाराष्ट्र: 'महा परवाना'' योजना

चर्चा में क्यों? महाराष्ट्र में नए औद्योगिक निवेश को आकर्षित करने के लिए, राज्य सरकार ने ‘’महा परवाना’’ ‘Maha Parwana’ नामक एक नई योजना की घोषणा की है। महत्वपूर्ण बिंदु यह योजना निवेशकों को कई प्रोत्साहन प्रदान करेगी और परियोजना निष्पादन के लिए एकल-खिड़की निकासी प्रणाली की पेशकश करेगी। इसके तहत 50 करोड़ या उससे...
Read More

आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान

चर्चा में क्यों? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 26 जून 2020 को कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार के कारण लॉकडाउन में प्रदेश लौटे प्रवासी कामगार व श्रमिकों को रोजगार देने के लिए आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान की शुरुआत की। महत्वपूर्ण बिंदु इस अभियान के तहत यूपी के 1.25 करोड़ लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा।...
Read More

झारखंड: मुख्यमंत्री शहरी श्रमिक रोजगार योजना

चर्चा में क्यों? देश के विभिन्न भागों से झारखंड लौट कर आए विशेषकर अकुशल श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री शहरी श्रमिक रोजगार योजना शुरु की जा रही है। योजना से संबंधित महत्वपूर्ण बिंदु राज्य सरकार द्वारा ‘मुख्यमंत्री शहरी श्रमिक रोजगार योजना’ में शहरी क्षेत्रों में भी रोजगार की गारंटी लेकर...
Read More

कर्नाटक में मनाया गया मास्क दिवस

मास्क दिवस चर्चा में क्यों? कर्नाटक सरकार ने राज्य में मास्क, सैनिटाइजर. हाथों को साबुन से धोने और सामाजिक दूरी के महत्व को समझाने के लिए 18 जून 2020 को ‘मास्क दिवस’ (Mask Day) मनाया। इसके पीछे राज्य सरकार का उद्देश्य कोरोना से लड़ाई में इनकी महत्ता को लेकर लोगों में जागरुकता फैलाना है। इस...
Read More

उत्तराखंड का सबसे बड़ा जैव विविधता उद्यान हल्द्वानी में स्थापित

पौधों के संरक्षण और रिसर्च के लिए उत्तराखंड के वन अनुसंधान केंद्र हल्द्वानी ने प्रदेश का सबसे बड़ा जैव विविधता उद्यान (Biodiversity Park) तैयार किया है। 18 एकड़ के इस उद्यान में देश भर में पाई जाने वाली 500 से अधिक वनस्पतियां संरक्षित हैं। साथ ही जुरासिक पार्क और संग्रहालय भी हैं। यहां 500 से...
Read More
1 2 3