गंगोत्री नेशनल पार्क में सड़कों के निर्माण को स्वीकृति

चर्चा में क्यों?

  • उत्तराखंडवन्यजीव बोर्ड की बैठक में गंगोत्री राष्ट्रीय पार्क के अधीन सामरिक महत्व की चार सड़कों के निर्माण को मंजूरी दे गई है।

इन सड़कों को मिली मंजूरी
सड़क                                     लंबाई
सुमला से थांगला                      11.85
त्रिपाणई से रंगमचगा़ड               6.21
मंडी से सांगचोक्ला                    17.60

  • यह तीनों सड़कें ही चीन सीमा पर हैं और आइटीबीपी के लिए इन सड़कों का निर्माण केंद्रीय लोक निर्माण विभाग की ओर से किया जाना प्रस्तावित है।
  • इसके साथ ही गंगोत्री राष्ट्रीय उद्यान में गरतांग गली ट्रैक की मरम्मत को भी मंजूरी दी गई।

गंगोत्री नेशनल पार्क (Gangotri National Park):

  • इसकी स्थापना वर्ष 1989 में की गई थी।
  • यह उत्तराखंड के उत्तरकाशी ज़िले में भागीरथी नदी के ऊपरी जलग्रहण क्षेत्र में स्थित है।
  • गंगोत्री ग्लेशियर में स्थित गंगा नदी का उद्गम स्थल गौ-मुख इस पार्क के अंदर स्थित है।
  • यह पार्क घने शंकुधारी वनों से घिरा हुआ है जिनमें ज्यादातर समशीतोष्ण वन हैं।
  • इस पार्क की सामान्य वनस्पतियों में चिरपाइन, देवदार, फर, स्प्रूस, ओक एवं रोडोडेंड्रॉन शामिल हैं।
  • इस पार्क में विभिन्न दुर्लभ एवं लुप्तप्राय प्रजातियाँ जैसे- नीली भेड़, काले भालू, भूरे भालू, हिमालयन मोनाल, हिमालयन स्नोकॉक, हिमालयन तहर, कस्तूरी मृग और हिम तेंदुए पाई जाती हैं।

Related Posts

Leave a Reply