चर्चा में क्यों?

  • भारतीय नौसेना की एंटी-सबमरीन युद्ध क्षमता में वृद्धि के लिए युद्धपोतों के सभी मोर्चों से गोलाबारी करने में सक्षम उन्नत टॉरपीडो डिकॉय सिस्टम मारीच (Advanced Torpedo Decoy System Maareech) को बेड़े में शामिल किया गया है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • टॉरपीडो विध्वंसक प्रणाली ‘मारीच’ का डिजाइन और विकास स्वदेश में ही रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (DRDO )ने किया है। सार्वजनिक क्षेत्र का रक्षा उपक्रम भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (BEL) इस डिकॉय सिस्टम के उत्पादन का कार्य करेगा।
  • यह प्रणाली किसी भी टॉरपीडो हमले को विफल करने में नौसेना की मदद करेगी।
  • ‘मारीच’ प्रणाली हमलावर टॉरपीडो का पता लगाने, उसे भ्रमित करने और नष्ट करने में सक्षम है।
  • ‘मारीच’ को नौसेना के बेड़े में शामिल किया जाना स्वदेशी रक्षा प्रौद्योगिकी के विकास की दिशा में न सिर्फ नौसेना और डीआरडीओ के संयुक्त संकल्प का साक्ष्य है, बल्कि यह सरकार की ‘मेक इन इंडिया’ पहल तथा प्रौद्योगिकी में आत्मनिर्भर बनने के देश के संकल्प की दिशा में एक बड़ा कदम है।