अभिनेता पंकज त्रिपाठी को बिहार राज्य सरकार ने बिहार खादी का ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किया है। पंकज त्रिपाठी मूल रूप से बिहार के ही निवासी हैं। उल्लेखनीय है कि बिहार की खादी देश में विशेष स्थान रखती है। लेकिन ब्रांडिंग, नई तकनीक और बाजार से सीधे जुड़ाव न होने के कारण यह पिछड़ती रही।

अब राज्य सरकार इस पर पूरा फोकस कर रही है। बिहार राज्य खादी ग्रामोद्योग बोर्ड, बिहार उद्योग विभाग की एक संस्था है। यह बिहार में खादी वस्त्रों के उत्पादन एवं विपणन के लिए विभिन्न योजनाओं को क्रियान्वित करती है। इसके लिए संस्था ने देश का सबसे बड़ा खादी मॉल राजधानी पटना में स्थापित किया गया है। इसमें राज्य की खादी संस्थाओं की ओर से तैयार सामान की बिक्री की जा रही है।
हालांकि लॉकडाउन के कारण इसे बंद कर दिया गया था, अब इसे फिर खोल दिया गया है। अभिनेता पंकज त्रिपाठी अब बिहार खादी और देश के सबसे बड़े खादी मॉल का प्रचार-प्रसार करेंगे।

क्या है खादी?

खादी एक ऐसे वस्त्र के लिए उपयोग किया जाने वाला शब्द है, जिसमें मुख्यत:  कपास के रेशों को हाथ से काता जाता है। हालांकि, लोकप्रिय धारणा के विपरीत, खादी रेशम और ऊन से भी निर्मित हो सकती है, जिसे क्रमशः ऊनी खादी के रूप में जाना जाता है। इस कपड़े की बनावट को गर्मियों में आरामदेह और सर्दियों के दौरान गर्म रखने की क्षमता के लिए जाना जाता है।भारत के स्वतंत्रता आन्दोलन में खादी का बहुत महत्व रहा। गांधीजी ने 1920 के दशक में गावों को आत्मनिर्भर बनाने के लिये खादी के प्रचार-प्रसार पर बहुत जोर दिया था।