भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) का 92वां स्थापना दिवस

महत्वपू्र्ण बिंदु

  • भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) ने 16 जुलाई 2020 को अपना 92वां स्थापना दिवस मनाया।
  • भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (Indian Council of Agricultural Research, ICAR) कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के तहत आने वाले कृषि अनुसंधान और शिक्षा विभाग (DARE) के अंतर्गत आने वाला स्वायत्त संस्थान है।
  • सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के अंतर्गत पंजीकरण सोसायटी के रूप में 16 जुलाई, 1929 को इसकी स्थापना की गई थी।
  • परिषद देश भर में बागवानी, मत्स्य पालन और पशु विज्ञान सहित कृषि में अनुसंधान एवं शिक्षा के समन्वय, मार्गदर्शन और प्रबंधन करने वाली सर्वोच्च संस्था है।
  • देशभर के 102 आईसीएआर संस्थान व राज्यों के 71 कृषि विश्वविद्यालयों के साथ यह दुनिया में सबसे बड़ी राष्ट्रीय कृषि प्रणालियों में से एक है।
  • आईसीएआर ने हरित क्रांति को बढ़ावा देने और इस क्रम में शोध एवं तकनीक विकास के माध्यम से भारत में कृषि विकास में अहम भूमिका निभाई है।

कृषि पत्रकारों को मान्यता और पुरस्कार भी देता है ICAR

  • भारतीय कृषि एवं अनुसंधान परिषद हर साल संस्थानों, वैज्ञानिकों, शिक्षकों और कृषि पत्रकारों को मान्यता और पुरस्कार भी देता रहा है।
  • इस साल कृषि विश्वविद्यालयों और डीम्ड विश्वविद्यालयों में गोविंद बल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, पंतनगर (उत्तराखंड) को शिक्षण, शोध, विस्तार और नवाचार जैसे सभी क्षेत्रों में तेज प्रगति के लिए सर्वश्रेष्ठ कृषि विश्वविद्यालय का पुरस्कार दिया गया।
  • आईसीएआर- केन्द्रीय समुद्री मत्स्य अनुसंधान संस्थान कोच्चि (केरल) को बड़े संस्थान की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ संस्थान का पुरस्कार दिया गया।
  • वहीं आईसीएआर- केन्द्रीय कपास प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान मुंबई (महाराष्ट्र)को छोटे आईसीएआर संस्थानों की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ आईसीएआर संस्थान के पुरस्कार के लिए चुना गया।

Related Posts

Leave a Reply