Follow Us On

विश्व चगास रोग दिवस

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization-WHO) द्वारा 14 अप्रैल, 2020 को पहली बार विश्व चगास रोग दिवस (World Chagas Disease Day) मनाया गया। इस दिवस का उद्देश्य चगास रोग के बारे में जागरूकता फैलाना है।गौरतलब है कि 72वीं विश्व स्वास्थ्य सभा (World Health Assembly) ने 24 मई, 2019 को चगास रोग दिवस के पदनाम को मंज़ूरी दी।
क्या है चगास रोग ?
चगास रोग ट्रायटोमिन (Triatomine) नामक एक कीड़े के काटने से होता है जो व्यक्ति के चेहरे पर काटता है इसलिए इसे ‘किसिंग बग’ (Kissing Bug) भी कहा जाता है। इस बीमारी का ‘चगास’ नाम डॉ कार्लोस रिबेइरो जस्टिनिआनो चगास (Dr Carlos Ribeiro Justiniano Chagas) के नाम से लिया गया है, जिन्होंने 14 अप्रैल, 1909 को ब्राज़ील में इस बीमारी के पहले रोगी का निदान किया था। यह मुख्य रूप से उन गरीब लोगों को प्रभावित करती है जिनके पास उचित स्वास्थ्य देखभाल की कमी होती है। इसलिये इसे साइलेंट एवं साइलेंस्ड (Silent And Silenced) बीमारी भी कहा जाता है। इसे एक उपेक्षित उष्णकटिबंधीय बीमारी (Neglected Tropical Disease- NTD) के रूप में वर्गीकृत किया गया है। इस रोग को अमेरिकन ट्रिपैनोसोमियासिस (American Trypanosomiasis) भी कहा जाता है। यह बीमारी विशेषकर लैटिन अमेरिका में सबसे ज्यादा गरीबी से ग्रस्त समुदायों को नुकसान पहुँचाती है।यह संक्रामक रोग है जो ट्रायटोमिन में मौजूद प्रोटोजन पैरासाइट से होता है किंतु यह सर्दी एवं फ्लू की तरह संक्रामक रोग नहीं है अर्थात् यह एक व्यक्ति से दूसरे में नहीं पहुँचता है।

Related Posts

Leave a Reply