Follow Us On

तिनसुकिया अग्निकांड पर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) की कमेटी

चर्चा में क्यों?

  • नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने असम के तिनसुकिया जिले के बागजान में तेल कुएं में लगी आग के कारणों की जांच के लिए कमेटी का गठन किया है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) ने असम के तिनसुकिया जिले के बागजान में तेल कुएं में लगी आग में काबू पाने में असफल रहने पर सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनी ऑयल इंडिया लि. (OIL) पर 25 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।
  • जस्टिस एसपी वांगडी और विशेषज्ञ सदस्य सिद्धांत दास की पीठ ने हाई कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश बीपी कातकेय की अध्यक्षता में एक समिति गठित की है जो इस मामले पर 30 दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।
  • उल्‍लेखनीय है कि असम के तिनसुकिया जिले में ऑयल इंडिया लिमिटेड के संचालित बागजान क्षेत्र में एक कुएं से 27 मई 2020 को प्राकृतिक गैस का अनियंत्रित रूप से रिसाव होने लगा था। इसके कारण विस्फोट हो गया जिससे आठ जून को कुएं में आग लग गई थी।

Related Posts

Leave a Reply