Follow Us On
  • कैंसर पीड़ित बच्चों की मदद के लिये वर्षों से प्रयासरत ग्रीस की मारियाना वार्दिनॉयॉनिस (Marianna Vardinoyannis) और महिला जननांग विकृति का ख़ात्मा करने की मुहिम में अहम भूमिका निभाने वाले गिनी के डॉक्टर मॉरिसाना कोयाते (Morissana Kouyaté) को वर्ष 2020 के नेलसन मण्डेला पुरस्कार से सम्मानित किये जाने की घोषणा की गई है।
  • मारियाना वार्दीनोयोनिस वर्ष 1999 से संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक एवँ सांस्कृतिक संगठन (UNESCO) की सदभावना दूत भी रही हैं।
  • हर पाँचवे वर्ष में दिये जाने वाले मण्डेला पुरस्कार के ज़रिये मानवता की सेवा में जुटे कार्यकर्ताओं को सम्मानित किया जाता है।
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष तिजानी मोहम्मद-बाँडे ने अंतर्राष्ट्रीय मंडेला दिवस (18 जुलाई ) की पूर्व संध्या पर पुरस्कारों की घोषणा की।

मण्डेला पुरस्कार

  • जून 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में एक प्रस्ताव पारित होने के बाद ‘मण्डेला पुरस्कार’ शुरू किया गया था जिसके ज़रिये मानवता की सेवा में समर्पित लोगों की उपलब्धियों को सम्मानित किया जाता है।
  • इस पुरस्कार का लक्ष्य संयुक्त राष्ट्र के कामकाज, उद्देश्यों व सिद्धान्तों को बढ़ावा देना और नेल्सन मण्डेला के जीवन और आपसी सुलह-समझौते, राजनैतिक व सामाजिक बदलाव की उनकी विरासत को सम्मान देना है।
  • नेल्सन मण्डेला दक्षिण अफ़्रीका के लोकतान्त्रिक ढँग से चुने गए पहले राष्ट्रपति थे और वह जीवन-पर्यन्त मानवाधिकारों के सक्रिय कार्यकर्ता रहे जिनके प्रयासों के फलस्वरूप देश में नस्लवादी रंगभेदी शासन का अन्त करना सम्भव हुआ।
  • पुरस्कार चयन समिति की अध्यक्षता यूएन महासभा प्रमुख करते हैं और पुरस्कारों के लिए नामांकन यूएन के सदस्य देश, अन्तरसरकारी संगठन व ग़ैरसरकारी संगठनों द्वारा किया जाता है।

Related Posts

Leave a Reply