Follow Us On

माउंट मेरापी ज्वालामुखी

चर्चा में क्यों?

  • इंडोनेशिया के माउंट मेरापी ज्वालामुखी में 21 जून 2020 को फिर से विस्फोट हुआ। 2930 मीटर ऊंचे माउंट मेरापी में इससे पहले 2 अप्रैल को विस्फोट हुआ था और राख आसमान में 3 किलोमीटर तक फैल गई थी।

महत्वपूर्ण तथ्य

  • माउंट मेरापी (माउंटेन ऑफ फायर) इंडोनेशिया के 130 सक्रिय ज्वालामुखियों में से सबसे अधिक सक्रिय है।
  • यह जावा और इंडोनेशिया की सांस्कृतिक राजधानी, योग्याकार्टा के द्वीप के केंद्र के पास स्थित है।
  • इंडोनेशिया प्रशांत महासागर के रिंग ऑफ फायर (Pacific Ring of Fire) पर स्थित है। इसलिए यहां बड़ी संख्या में ज्वालामुखी पाए जाते हैं।

पैसेफिक रिंग ऑफ़ फायर

  • पृथ्वी के 75% यानि 450 से अधिक ज्वालामुखी रिंग ऑफ़ फायर में स्थित हैं। दुनिया में आने वाले सभी भूकंपों के 90 प्रतिशत भूकंप इसी इलाके में आते हैं।
  • यह क्षेत्र प्रशांत महासागर में एक अर्धवृत के आकार में फैला है। इस क्षेत्र का विस्तार फिलीपींस सी प्लेट, प्रशांत प्लेट, यूआन दे फूका और कोकोस प्लेट और नाज्का प्लेट के बीच में है।इस क्षेत्र में पृथ्वी के प्लेट टेक्टोनिक्स में बदलाव होता रहता है जिसके कारण इस इलाके में बहुत सी भूगर्भीय घटनाएं होती रहती हैं।
  • इस क्षेत्र में स्थित देशों में इंडोनेशिया, मलेशिया, जापान, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैड, पापुआ न्यू गिनी, सोलोमन द्वीप, फिजी, मेलानेशिया, माइक्रोनेशिया और पोलेनेशिया के साथ उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका के पूर्वी और पश्चिमी समुद्र तट आते हैं। इसलिए इन जगहों पर हमेशा भूकंप और ज्वालामुखी का खतरा बना रहता है।

Related Posts

Leave a Reply