Follow Us On

Daily Current Affairs 7 December 2020

रक्षा-प्रतिक्षा

भारत-रूस पैसेज अभ्यास

चर्चा में क्यों?

  • भारतीय नौसेना ने 4 से 5 दिसंबर 2020 के बीच पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र (IOR)में रूसी फेडरेशन नेवी के साथ पैसेज अभ्यास (PASSEX) किया।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • इस अभ्यास में रूसी फेडरेशन नेवी (RUFN)की गाइडेड मिसाइल क्रूज़र वर्याग, पनडुब्बी-रोधी जहाज एडमिरल पेंटेलेयेव आदि ने जबकि भारतीय नौसेना की ओर से स्वदेश निर्मित  युद्धपोत INS शिवालिक और पनडुब्बी-रोधी टोही युद्धपोत INS कदमत्त ने भाग लिया।
  • इस अभ्यास का उद्देश्य दोनों मित्र देशों की नौसेनाओं के बीच पारस्परिकता बढ़ाना, तालमेल को बेहतर करना और बेहतरीन कार्यप्रणाली को अपनाना है।
  • पासेक्स का आयोजन नियमित रूप से भारतीय नौसेना द्वारा अपने मित्र देशों की नौसेनाओं के साथ किया जाता है, जिसमें वह एक-दूसरे के बंदरगाहों पर जाते हैं या समुद्र में किसी निश्चित स्थान पर जाते हैं।
  • इस अभ्यास का आयोजन पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र में किया गया है, जो दोनों देशों के बीच मजबूत दीर्घकालिक रणनीतिक संबंधों, विशेष रूप से समुद्री क्षेत्र में रक्षा सहयोग को दर्शाता है। 

………………………………………………………………………..

भारत एवं विश्व

भारत और अमेरिका में बौद्धिक संपदा अधिकार पर एमओयू

चर्चा में क्यों?

  • भारत और अमेरिका ने बौद्धिक संपदा अधिकार पर आपसी सहयोग बढ़ाने के लिए सहमति ज्ञापन समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • इसके तहत दोनों देश बौद्धिक संपदा अधिकारों के क्षेत्र की सर्वश्रेष्ठ प्रक्रिया साझा करेंगे और साथ मिलकर प्रशिक्षण कार्यक्रम भी चलाएंगे।
  • इसके तहत दोनों पक्ष एक द्विपक्षीय योजना तैयार करेंगे जो इस सहमति ज्ञापन पत्र के प्रावधानों को लागू करने का काम करेगी।
  • इस योजना में विस्तृत सहयोग कार्यक्रम और कार्रवाई करने लायक उपाय शामिल होंगे।
  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस साल 19 फरवरी को अमेरिकी पेटेंट और ट्रेडमार्क कार्यालय (USPTO)और देश के उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (DPIIT) के बीच इस सहमति ज्ञापन के लिए मंजूरी दे दी थी।

………………………………………………………………………..

राष्ट्रीय परिदृश्य

सेंट्रल विस्टा परियोजना के निर्माण पर सुप्रीम कोर्ट की रोक

चर्चा में क्यों?

  • नए संसद भवन के निर्माण के लिए शुरू की गई सेंट्रल विस्टा परियोजा के निर्माण पर उच्चतम न्यायालय ने रोक लगा दी है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • अपने आदेश में सर्वोच्च न्यायालय  हमें शिलान्यास से कोई परेशानी नहीं है लेकिन किसी तरह का निर्माण नहीं होना चाहिए।
  • उल्लेखनीय है कि 10 दिसंबर 2020 से यहां निर्माण कार्य आरंभ होना था।
  • शीर्ष अदालत ने कहा कि वह सेंट्रल विस्टा परियोजना का विरोध करने वाली लंबित याचिकाओं पर कोई फैसला आने तक निर्माण कार्य या इमारतों या पेड़ों को गिराने की अनुमति नहीं देगा। 
  • केंद्र सेंट्रल विस्टा परियोजना के लिए आवश्यक कागजी कार्य कर सकता है एवं नींव रखने के प्रस्तावित समारोह का आयोजन कर सकता है लेकिन फिलहाल निर्माण कार्य नहीं होगा।

क्या है सेंट्रल विस्टा परियोजना?

  • सेंट्रल विस्टा परियोजना के तहत नए संसद भवन का निर्माण किया जा रहा है। इसके अंतर्गत नया त्रिकोणीय संसद भवन, कॉमन केंद्रीय सचिवालय और तीन किलोमीटर लंबे राजपथ को पुनर्विकसित किया जाएगा।
  • नए संसद भवन में 900 से 1,200 सांसदों के बैठने की क्षमता होगी।
  • परियोजना के कारण नेशनल म्यूजियम और इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर ऑफ आर्ट को यहां से हटाना पड़ेगा।
  • इस प्रक्रिया की जद में जनपथ, मान सिंह रोड और विजय चौक के आसपास के बहुत से सांस्कृतिक इमारत भी आ सकते हैं।

क्यों किया जा रहा है विरोध?

  • सेंट्रल विस्टा परियोजना के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गयी है. जिसमें भूमि उपयोग बदलाव की मंजूरी सहित दी गई अन्य विभिन्न मंजूरियों के खिलाफ दायर की गई हैं। ये सभी अभी शीर्ष अदालत में विचाराधीन है।

………………………………………………………………………..

आर्थिक एवं वाणिज्यिक परिदृश्य

वी शेप रिकवरी

चर्चा में क्यों?

  • भारत अर्थव्यवस्था में ‘वी आकार’ यानी तेजी से सुधार देखने को मिल रहा है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • वित्त वर्ष की 2020 की जुलाई-सितंबर तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में इससे पिछली तिमाही की तुलना में 23 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गई है।
  • वित्त मंत्रालय की ओर से हाल ही में जारी मासिक आर्थिक समीक्षा में यह निष्कर्ष सामने आया है। वी-आकार की वृद्धि (v shape recovery) से तात्पर्य किसी अर्थव्यवस्था में तेज गिरावट के बाद तेजी से सुधार से होता है।
  • दूसरी तिमाही में ग्रोथ रेट माइनस 7.5 फीसदी रही
  • चालू वित्त वर्ष की दूसरी यानी जुलाई-सितंबर की तिमाही में जीडीपी में एक साल पहले की इसी तिमाही के मुकाबले गिरावट घटकर 7.5 प्रतिशत रह गई है।
  • पहली अप्रैल-जून की तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था में 23.9 प्रतिशत की गिरावट आई थी। समीक्षा में कहा गया है कि दूसरी तिमाही में सालाना आधार पर 7.5 प्रतिशत की गिरावट आई है, लेकिन तिमाही-दर-तिमाही आधार पर इसमें 23 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
  • नवंबर की मासिक आर्थिक समीक्षा में कहा गया है, ”2020-21 के मध्य में वी-आकार की वृद्धि से भारतीय अर्थव्यवस्था की जुझारू क्षमता का पता चलता है।
  • अर्थव्यवस्था की बुनियाद मजबूत है और लॉकडाउन को धीरे-धीरे हटाए जाने के बाद यह आगे बढ़ रही है। इसके अलावा आत्मनिर्भर भारत मिशन की वजह से भी अर्थव्यवस्था पुनरोद्धार की राह पर है।
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि अर्थव्यवस्था को सबसे अधिक कृषि क्षेत्र से समर्थन मिल रहा है। इसके बाद निर्माण और विनिर्माण क्षेत्र भी अर्थव्यवस्था को समर्थन दे रहे हैं।

………………………………………………………………………..

नियुक्ति/निर्वाचन

उदय शंकर

चर्चा में क्यों?

  • उदय शंकर को वर्ष 2020-21 के लिए फेडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की – FICCI) के अध्यक्ष के तौर पर नामित किया गया है।
  • वह वर्तमान अध्यक्ष संगीता रेड्डी का स्थान लेंगे।
  • शंकर 11 दिसंबर, 12 दिसंबर और 14 दिसंबर, 2020 को आयोजित होने वाली फिक्की की 93वीं वार्षिक सामान्य बैठक (AGM) के दौरान अपना पद संभालेंगे।
  • उदय शंकर वर्तमान में वॉल्ट डिज़नी कंपनी एशिया पैसिफिक के अध्यक्ष होने के साथ ही स्टार इंडिया और वॉल्ट डिज़नी कंपनी इंडिया के अध्यक्ष के तौर पर भी सेवारत हैं।
  • वे फिक्की का नेतृत्व करने वाले भारत के पहले मीडिया कार्यकारी बन जाएंगे।

………………………………………………………………………..

निधन

दिनेश्वर शर्मा

  • लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का 4 दिसंबर 2020 को निधन हो गया है।
  • वह लक्षद्वीप के 34वें प्रशासक के तौर थे।
  • 1976 बैच के केरल कैडर के आईपीएस अधिकारी रहे दिनेश्वर शर्मा 2016 में आईबी चीफ के रूप में रिटायर हुए थे।
  • अक्टूबर 2019 में उन्हें लक्षद्वीप का प्रशासक नियुक्त किया गया था।
  • ………………………………………………………………………..

Related Posts

Leave a Reply