Follow Us On

Daily Current Affairs 4 November 2020

समारोह/सम्मेलन
13वां अर्बन मोबिलिटी इंडिया (UMI) सम्मेलन
चर्चा में क्यों?

आवास एवं शहरी मामलों का मंत्रालय आगामी 9 नवंबर, 2020 को 13वीं अर्बन मोबिलिटी इंडिया (यूएमआई) सम्मेलन का आयोजन कर रहा है।
महत्वपूर्ण बिंदु
दिन भर का यह सम्मेलन वीडियो कॉन्फ्रेंस/वेबिनार के माध्यम से ऑनलाइन आयोजित किया जाएगा।
इस वर्ष के सम्मेलन का मुख्य विषय ‘इमर्जिंग ट्रेंड्स इन अर्बन मोबिलिटी’ यानि शहरी गतिशीलता का उभरता रूख है।
इसका मुख्य बिंदु जनता को उसकी पहुंच के भीतर और सुगम परिवहन सुविधा मुहैया कराने में कोविड-19 महामारी द्वारा पेश चुनौतियों और उससे निपटने के लिए राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नवीन उपाय करने पर ध्यान केन्द्रित करना है।
अभी तक इस तरह के 12 सम्मेलन आयोजित किए जा चुके हैं। इन सम्मेलनों में भागीदारी के जरिए राज्य सरकारों, शहरी प्रशासनों और अन्य भागीदारों को काफी लाभ हुआ है।
………………………………………………………………………..
चर्चित व्यक्तित्व
प्रियंका राधाकृष्णन
चर्चा में क्यों?

दूसरी बार न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री बनने वाली जेसिंडा आर्डर्न ने अपनी कैबिनेट में भारतीय मूल की जन्मीं प्रियंका राधाकृष्णन को भी शामिल किया है।
महत्वपूर्ण बिंदु
जेसिंडा की लेबर पार्टी ने 17 अक्टूबर को हुए आम चुनावों में जीत दर्ज की थी।
न्यूजीलैंड के इतिहास में पहली बार किसी पार्टी को इतनी बड़ी जीत मिली है।
उनकी पार्टी को 49.1 फीसदी वोट मिले हैं और 120 सीटों में से 64 पर जीत हासिल की है।
भारतीय मूल की प्रियंका राधाकृष्णन न्यूजीलैंड आने से पहले सिंगापुर के स्कूल में पढ़ीं। वह मूल रूप से केरल की निवासी हैं।
प्रियंका घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं और प्रवासी मजदूरों के लिए आवाज उठाती रही हैं।
लेबर पार्टी की ओर से वो पहली बार 2017 में सांसद बनीं और उन्हें 2019 में मिनिस्ट्री ऑफ एथनिक कम्युनिटीज का पार्लियामेंट्री प्राइवेट सेक्रेटरी बनाया गया था।
इसी प्रोफाइल पर उन्होंने जो काम किया, उसके आधार पर ही उन्हें डाइवर्सिटी, इन्क्लूजन एंड एथनिक कम्युनिटीज डिपार्टमेंट का मिनिस्टर बनाया गया है।
………………………………………………………………………..
ननिया महुता
चर्चा में क्यों?
न्यूजीलैंड की पहली माओरी महिला, जो विदेश मंत्री बनीं
महत्वपूर्ण बिंदु
न्यूजीलैंड के इतिहास में पहली बार किसी मूल निवासी महिला को विदेश मंत्री बनाया है।
दूसरी बार न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री बनने वाली जेसिंडा आर्डर्न ने देश के मूल निवासी माओरी समुदाय की ननिया महुता को विदेश मंत्री नियुक्त किया है।
महुता 4 साल पहले देश की पहली महिला सांसद थीं, जिन्होंने चेहरे पर ट्रेडीशनल टैटू बनवाया था। वह माओरी जनजाति से आती हैं, जो कि न्यूजीलैंड के मूल निवासी हैं।
हालांकि अभी तक विदेश मंत्री का पदभार विंस्टन पीटर्स संभाल रहे थे, वो भी माओरी जनजाति से हैं।
कौन हैं माओरी?
माओरी न्यूजीलैंड के मूल निवासी हैं।
जब यूरोपीय लोग पहली बार न्यूज़ीलैंड पहुंचे थे तो उनकी माओरी मूल निवासियों से भिड़ंत हो गई थी।
न्यूजीलैंड के खोजकर्ता कहे जाने वाले जेम्स कुक के साथियों के साथ हुई इस हिंसक झड़प में कई माओरी मारे गए थे।
इसके बाद ब्रिटेन ने इसे अपना उपनिवेश बना लिया।
………………………………………………………………………..
इंडेक्स/रिपोर्ट
इंडिया सर्विसेज बिजनेस एक्टिविटी इंडेक्स
चर्चा में क्यों?

इंडिया सर्विसेज बिजनेस एक्टिविटी इंडेक्स अक्टूबर में बढ़कर 54.1 पर पहुंच गया, जो सितंबर में 49.8 पर था।
महत्वपूर्ण बिंदु
इंडिया सर्विसेज बिजनेस एक्टिविटी इंडेक्स अक्टूबर में बढ़कर 54.1 पर पहुंच गया, जो सितंबर में 49.8 पर था।
फरवरी के बाद पहली बार इंडेक्स 50 से ऊपर आया है।
IHS मार्किट इंडिया सर्विसेज पर्चेजिंग मैन ेजर्स इंडेक्स (PMI) के मुताबिक इंडेक्स जब 50 से ऊपर रहता है, तो इसका मतलब यह होता है कि संबंधित कारोबारी सेक्टर में तेजी आई है।
इसी तरह से इंडेक्स के 50 से नीचे रहने का मतलब संबंधित कारोबारी सेक्टर में गिरावट होता है। इंडेक्स 50 पर रहे, तो मतलब यह होता है कि सेक्टर में कोई बदलाव नहीं हुआ।
कंपोजिट PMI आउटपुट इंडेक्स 54.6 से 58 पर पहुंचा
कंपोजिट PMI आउटपुट इंडेक्स अक्टूबर में 58 पर पहुंच गया। यह सितंबर में 54.6 पर था।
कंपोजिट इंडेक्स सर्विस और मैन्यूफैक्चरिंग दोनों ही सेक्टर्स का हाल बताता है।
कंपोजिट इंडेक्स में बढ़ोतरी से यह पता चल रहा है कि प्राइवेट सेक्टर के उत्पादन में करीब 9 साल की सबसे तेज बढ़ोतरी हुई है।
………………………………………………………………………..
अंतर्राष्ट्रीय परिदृश्य
पाकिस्तान ने गिलगित-बाल्टिस्तान को दिया अस्थाई प्रांतीय दर्जा.
चर्चा में क्यों?

गिलगित-बाल्टिस्तान को अस्थायी प्रांत का दर्जा देने के पाकिस्तान के निर्णय पर भारत ने कड़ा विरोध जताया है।
महत्वपूर्ण बिंदु
उल्लेखनीय है कि गिलगित-बाल्टिस्तान गुलाम कश्मीर की ही तरह केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न हिस्सा है जो 1947 से पाकिस्तान के कब्जे में है।
भौगोलिक रूप से यह लद्दाख के उत्तर-पश्चिम में उच्च भूमि पर स्थित क्षेत्र है।
इसकी सीमाएं पाकिस्तान, अफगानिस्तान और चीन से मिलती हैं।
पूर्ववर्ती जम्मू-कश्मीर रियासत का हिस्सा था गिलगित-बाल्टिस्तान
गिलगित-बाल्टिस्तान जम्मू-कश्मीर के पूर्ववर्ती रियासत का हिस्सा था, लेकिन वर्ष 1947 में पाकिस्तान द्वारा समर्थित कबाइली सेना के आक्रमण के बाद 4 नवंबर, 1947 से यह क्षेत्र पाकिस्तान के नियंत्रण में है।

………………………………………………………………………..
मिशन/ अभियान
मिशन सागर–II
चर्चा में क्यों?

‘मिशन सागर-II’ के एक हिस्से के रूप में आईएनएस ऐरावत ने 02 नवंबर 2020 को पोर्ट सूडान (Port Sudan) में प्रवेश किया है।
महत्वपूर्ण बिंदु
भारत सरकार प्राकृतिक आपदाओं और कोरोना वायरस महामारी से उबरने में मित्र देशों की सहायता करने हेतु ‘मिशन सागर–II’ का संचालन कर रही है।
उल्लेखनीय है कि मिशन सागर-II, मई-जून 2020 में संपन्न किये गए ‘मिशन सागर’ का ही एक अगला चरण है। मई-जून 2020 में संचालित किये गए ‘मिशन सागर’ के तहत भारत ने मालदीव, मॉरीशस, सेशेल्स, मेडागास्कर और कोमोरोस को खाद्य सहायता और दवाइयाँ प्रदान की थीं।
वहीं अब मिशन सागर-II के एक हिस्से के रूप में, आईएनएस ऐरावत सूडान, दक्षिण सूडान, जिबूती और इरिट्रिया को खाद्यान्न सहायता पहुँचाएगा।
यह मिशन भारत द्वारा अपने समुद्री पड़ोसियों के साथ संबंधों के महत्त्व को रेखांकित करता है और मौजूदा संबंधों को और अधिक मज़बूत करता है।
………………………………………………………………………..
खेल परिदृश्य
शेन वॉटसन ने लिया क्रिकेट से संन्यास
महत्वपूर्ण बिंदु

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर और चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन (Shane Watson) ने हाल ही में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की औपचारिक घोषणा कर दी है।
शेन वॉटसन ने अपना पहला एकदिवसीय मैच वर्ष 2002 में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध खेलते हुए अपने अंतर्राष्ट्रीय कॅरियर की शुरुआत की थी।
ऑस्ट्रेलिया के लिये ऑलराउंडर के तौर पर खेलने वाले शेन वॉटसन ने वर्ष 2016 में ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। शेन वॉटसन, जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 59 टेस्ट, 190 वनडे और 58 टी-20 मैच खेले हैं, वर्ष 2007 और वर्ष 2015 में दो बार ICC विश्व कप जीतने वाली टीम का भी हिस्सा थे।
शेन वॉटसन ने टेस्ट क्रिकेट में 3731 रन और एकदिवसीय क्रिकेट में 5757 रन बनाते हुए अपने दौर के प्रमुख ऑलराउंडर के तौर पर अपने कॅरियर की समाप्ति की।

Related Posts

Leave a Reply