Follow Us On

BRICS विदेश मंत्रियों की वर्चुअल बैठक

कोविड-19 की वजह से ब्रिक्स देशों (ब्राजील-रूस-भारत-चीन-दक्षिण अफ्रीका) के विदेश मंत्रियों की वर्चुअल बैठक का 28 अप्रैल को आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य तौर पर कोविड-19 महामारी से उपजे हालात और इससे निपटने के लिए उठाये जाने वाले कदमों व भावी साझा सहयोग पर चर्चा की गई।बैठक में फैसला किया गया कि सभी सदस्य देशों के बीच कोरोना वायरस से बचाव में अपने अनुभवों को साझा करने का एक मंच बनेगा। इसके लिए इन देशों के स्वास्थ्य विभागों से जुड़े अधिकारियों की एक बैठक 7 मई, 2020 को बुलाई गई है। यह बैठक सार्क देशों के बीच होने वाली बैठक की तरह ही होगी।
ब्रिक्स से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • ब्रिक्स दुनिया की पाँच अग्रणी उभरती अर्थव्यवस्थाओं- ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के समूह के लिये एक संक्षिप्त शब्द है।
  • ब्रिक्स देशों के सर्वोच्च नेताओं का तथा अन्य मंत्रिस्तरीय सम्मेलन प्रतिवर्ष आयोजित किये जाते हैं।
  • 13-14 नवंबर, 2019 के मध्य 11वां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन’ (11th BRICS Summit), 2019 ब्राजीलिया, ब्राजील में संपन्न हुआ।
  • ब्रिक्स देशों की जनसंख्या दुनिया की आबादी का लगभग 42 फीसदी है और इसका वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद में हिस्सा लगभग 30% है।
    इसे महत्त्वपूर्ण आर्थिक इंजन के रूप में देखा जाता है और यह एक उभरता हुआ निवेश बाज़ार तथा वैश्विक शक्ति समूह है।
  • संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के दो स्थाय़ी सदस्य देश रुस व चीन इसके सदस्य हैं।

ब्रिक्स का इतिहास

  • वर्ष 2001 में Goldman Sachs के अर्थशास्री जिम ओ’ नील द्वारा ब्राज़ील, रूस, भारत और चीन (BRIC) की अर्थव्यवस्थाओं के लिये विकास की संभावनाओं पर एक रिपोर्ट में की गई थी।
  • वर्ष 2006 में चार देशों ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा  के बाद न्यूयार्क (USA) में विदेश मंत्रियों की वार्षिक बैठकों के साथ एक नियमित अनौपचारिक राजनयिक समन्वय शुरू किया।
    इस सफल बातचीत से यह निर्णय हुआ कि इसे वार्षिक शिखर सम्मेलन के रूप में देश और सरकार के प्रमुखों के स्तर पर आयोजित किया जाना चाहिये।
  • इस तरह पहला BRIC शिखर सम्मेलन वर्ष 2009 में रूस के येकतेरिनबर्ग में हुआ और इसमें वैश्विक वित्तीय व्यवस्था में सुधार जैसे मुद्दों पर चर्चा हुई।
  • दिसंबर 2010 में दक्षिण अफ्रीका को BRIC में शामिल होने के लिये आमंत्रित किया गया और इसे BRICS कहा जाने लगा।
  • मार्च 2011 में दक्षिण अफ्रीका ने पहली बार चीन के सान्या में तीसरे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में भाग लिया।
  • ब्रिक्स शिखर सम्मलेन की अध्यक्षता प्रतिवर्ष B-R-I-C-S क्रमानुसार सदस्य देशों के सर्वोच्च नेता द्वारा की जाती है।

Leave a Reply